Sunday, April 21, 2024

Delhi, Health, INDIA, News

Delhi :दिल्ली-एनसीआर में वायु गुणवत्ता गंभीर स्तर पर पहुंची,नोएडा में दमघोंटू हुई हवा,लोगों को हो रही आंखों में जलन

Delhi-NCR's air pollution ‘severe’

Air Quality Tanks To Season’s Worst In National Capital Region राजधानी  ( ) में हवा की गति कम होने के साथ ही वायु दमघोंटू हो गई है। शुक्रवार को एक बार फिर एनसीआर में दिल्ली की हवा गंभीर श्रेणी में दर्ज की गई। सफर इंडिया के अनुसार गुरुवार सुबह दिल्ली में समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 346 दर्ज किया गया, जो ‘बहुत खराब’ श्रेणी में है। वहीं, नोएडा में दोपहर 12 बजे समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 695 पर जा पहुंचा। कई लोगों ने आंखों में जलन तक की शिकायत की।

मौसम एजेंसी aqicn.org ने वायु गुणवत्ता सूचकांक मापा दिल्ली ( Delhi ) का आनंद विहार 999 परजबकि नोएडा के सेक्टर 62 में 469 दर्ज किया गया। aqicn.org के अनुसार, दिल्ली के कई हिस्सों में AQI 500 से ऊपर था।

आनंद विहार इलाके में प्रदूषण स्तर पर काबू पाने के लिए दिनभर एंटी स्मॉग से पानी की बौछारें की गईं, लेकिन इससे भी कोई खास असर देखने को नहीं मिला।गुरुवार को दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 346 दर्ज किया गया। यह इस सीजन का सर्वाधिक एक्यूआई है और यह लगातार छठा दिन रहा जब वायु गुणवत्ता बेहद खराब श्रेणी में बनी रही। जैसे-जैसे हवा गंभीर श्रेणी की ओर रुख कर रही है वैसे-वैसे ग्रैप का तीसरा चरण लागू होने की आशंका बढ़ रही है।वहीं, ग्रेटर नोएडा में भी AQI 400 के ऊपर दर्ज हुआ। दिल्ली के कई इलाकों में गुरुवार को सुबह से धुंध छाई हुई है।

भारतीय उष्णदेशीय मौसम विज्ञान संस्थान (आईआईटीएम) के पहले ही आशंका वक्त की थी कि गुरुवार को हवा पूर्व व उत्तर-पश्चिम दिशा से चलने का अनुमान है। इस दौरान हवा की गति चार से 12 किलोमीटर प्रतिघंटा रहेगी। वहीं, सुबह के समय हल्की धुंध छाएगी। ऐसे में हवा बेहद खराब श्रेणी में बनी रहेगी। वहीं, शुक्रवार को हवाएं दक्षिण-पूर्व व उत्तर-पश्चिम दिशा की ओर से चलेंगी। हवा की चाल चार से आठ किलोमीटर प्रतिघंटे रहने का अनुमान है।

दिल्ली ( Delhi ) में  डॉक्टरों ने चिंता व्यक्त की है कि वायु प्रदूषण बच्चों और बुजुर्गों में अस्थमा और फेफड़ों की समस्याएं बढ़ा रहा है। सफदरजंग अस्पताल में मेडिसिन विभाग के प्रमुख जुगल किशोर ने कहा कि हम चिड़चिड़ापन वाले ब्रोंकाइटिस संक्रमणों की संख्या में वृद्धि दर्ज कर रहे हैं। क्रोनिक ब्रोंकाइटिस और अस्थमा जैसी समस्याओं से पीड़ित लोग अपनी दवाएं नियमित रूप से लें और जब तक बहुत जरूरी न हो, खुले में न जाएं।

Vijay Upadhyay

Vijay Upadhyay is a career journalist with 23 years of experience in various English & Hindi national dailies. He has worked with UNI, DD/AIR & The Pioneer, among other national newspapers. He currently heads the United News Room, a news agency engaged in providing local news content to national newspapers and television news channels